B.TECH का स्टूडेंट सेलिब्रेट कर रहा था बर्थडे, तभी पड़ोसियों ने कर दिया हमला और फिर….|

545

बर्थडे एक ऐसा दिन जिसका हर कोई बेसब्री से इंतज़ार करता है. उस दिन दोस्तो के साथ केक काटने से लेकर पार्टी करने तक कि खुशी को बयां करने मुश्किल होता है पर तब क्या होगा जब जन्मदिन ही किसी की आखिरी दिन बन जाये. एक ऐसी ही घटना हाल में ही सामने आई है जहाँ दोस्तों के साथ पार्टी मना रहे छात्र को पड़ोसियों ने उसके जन्मदिन पर ही मौत के घाट उतार दिया. इस खौफनाक घटना के पीछे की वजह सुनकर हर कोई हैरान रह जाये. चलिये बताते है इस घटना के बारे में विस्तार से…..

बर्थडे पार्टी में किया ऐसा वारदात

दिल दहला देने वाली यह घटना सतनामपुरा की है. जहां दोस्त की बर्थडे पार्टी के सेलिब्रेशन की जश्न में सभी लोग खुशी खुशी शरीक हुए थे. तभी उस वक्त जश्न में डूबे इन छात्रों के ऊपर पड़ोसियों ने हमला बोल दिया और फिर यह बर्थडे पार्टी सेलिब्रेशन मौत को दावत देने वाली पार्टी बन गयी|

पड़ोसियों ने चेताया तो हो गया लड़ाई

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार नार्थ ईस्ट का रहने वाला छात्र आशीष लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी में बीटेक की पढ़ाई कर रहा था. घटना वाले दिन देर रात तक अपने कमरे में दोस्तों के साथ शराब की पार्टी कर रहे था. बहुत सारे दोस्तों के साथ होने होने की वजह से माहौल शोरगुल से भर गया. जिसके बाद उनके पड़ोसी ने उन्हें शोरगुल करने से मना किया. नशे में चूर दोस्तों का इस बात को लेकर पड़ोसियों से विवाद हो गया और इसके बाद जो भी हुआ वह बेहद खौफनाक था|

सभी छात्रों को पीटा

पड़ोसियों के काफी समझाने के बाद भी जब छात्रों ने नही माना तो पड़ोसियों में मौजूद कुछ हमलावरों ने छात्रों के ऊपर बैट और ईट पत्थर से हमला कर दिया. सबके मुँह और शरीर पर वार किए जाने की वजह से वे लोग खून से लतपथ होकर वहीं गिर पड़े. एसएचओ सुखपाल सिंह के अनुसार मेघालय के रहने वाले आशीष के दोस्त ऋषव का जन्म दिन का जश्न मनाने के लिए सभी लोग आशीष के पीजी पर एकत्रित हुए थे|

आशीष हुआ मौत के हवाले

तभी उसी वक़्त हुए लड़ाई में पड़ोसियों ने इन्हें जमकर पीटा जिसकी वजह से छात्र आशीष को गंभीर हालत में अस्पताल ले जाया गया, जहां उसे डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया. मौके पर मौजूद छात्र रजत की माने तो आशीष ने उन पड़ोसियों को समझाना पर वह उसकी बात न सुनकर उसकी जान ले ली|

खबर मिलते ही पहुंची पुलिस

घटना की खबर मिलते ही पुलिस ने उक्त स्थान पर पहुच कर आशीष के शव को अपने कब्जे में लेकर उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और दूसरी ओर पड़ोसियों के खिलाफ केस दर्ज कर हत्या आरोपी राहुल और उसके दो बेटों अभिषेक और अंकित तथा उनके भाई और उनके 2 बेटो को गिरफ्तार कर आगे की कार्यवाही में जुट गई है|

आरोपी निकले नाबालिग

पुलिस की माने तो उनके दोनों बेटे नाबालिग है. पुलिस नाबालिग लड़को को भी कड़ी से कड़ी सज़ा दिलाने की हरसंभव कोशिश करेगी. वही हत्या आरोपी राहुल की माने तो वह उन छात्रों को काफी समझाया पर वो समझने को तैयार ही नही थे मजबूरन उन्हें यह कदम उठाना पड़ा|